लोबिया के गुण और उससे होने वाले आयुर्वेदिक इलाज

880

परिचय (Introduction)

लोबिया का रंग हल्का हरा और पीला होता है। इसका स्वाद फीका होता है। लोबिया एक प्रकार का दाना होता है, जिसकी फली लंबी और वाकला के समान होती है, इसके फूल नीले और पत्ते हरे होते हैं। यह गर्म होती है।

गुण (Property)

लोबिया शरीर को उज्जवल करती है व सूजन को पचाती है तथा इससे पेशाब खुलकर आता है। यह सीने और फेफड़े को नरम करती है, वीर्य और दूध को बढ़ाता है। इसका प्रयोग धातु को गाढ़ा करता है। लोबिया खाने से शरीर मोटा शक्तिशाली होता है। गर्भवती महिला के लिए लोबिया का सेवन करना बच्चे के जन्म के समय लाभकारी होता है और यह पेट के खून को साफ करता है।

हानिकारक प्रभाव (Harmful effects)

लोबिया देर से हजम होता है।

विभिन्न रोगों में उपचार (Treatment of various diseases)

तुण्डिका शोथ (टांसिल): 100 ग्राम लोबिया को पानी में उबालकर हल्का गर्म करके पीने से तुण्डिका शोथ (टांसिलों) में बहुत आराम आता है। इससे टांसिलों के दर्द और सूजन दोनों नष्ट हो जाते हैं।